जल जीवन हरियाली योजना क्या है | What is water life greenery

जल जीवन हरियाली योजना क्या है | What is water life greenery

पूरे विश्व में प्रकृति विमुख मानवीय गतिविधियों , विकास की असंतुलित अवधारणाओं एवं प्राकृतिक संसाधनों के अंधाधुंध दोहन के कारण पारिस्थिकीय असंतुलन का संकट संपूर्ण मानव जाति के लिए एक गंभीर चुनौती बनता जा रहा है। विगत वर्षो में जलवायु परिवर्तन एक बड़े खतरे के रूप में उभरा है। इसी खतरे को देखते हुए बिहार सरकार ने एक महत्वाकांक्षी योजना जल-जीवन-हरियाली अभियान चलाई है |

जल जीवन हरियाली योजना 2021 का उद्देश्य

जैसे की आप सभी लोग जानते है की भारत एक कृषि प्रदान देश है जहा पर सबसे ज्यादा खेती की जाती है। लेकिन लोग अपने तरक्की के लिए इन प्राकृतिक स्रोतों को नुकसान पंहुचा रहा है जिसकी वजह से खेतो को काफी नुकसान हो रहा है प्राकृतिक को फिर से बेहतर बनाने के लिए और स्रोतों के सही इस्तेमाल के लिए बिहार सरकार ने इस जल जीवन हरियाली योजना 2021 को शुरू किया है इस योजना के तहत सरकार किसानो को तालाब ,पोखरे बनाने और खेतो की सिचाई के लिए सरकार 75500 रूपये की सब्सिडी आर्थिक सहायता प्रदान करना। इस  योजना के ज़रिये न केवल राज्य पेड़ लगाने की मुहीम पर काम होगा, बल्कि बारिश के पानी से सिंचाई की व्यवस्था भी जाएगी, जिससे पेड़ों या खेतों को सही समय पर पानी मिलने पर उनकी अच्छे से  भी देखभाल की जा सकेगी।

क्या है जल जीवन हरियाली योजना

सभी जानते हैं कि एक पेड़ एक साल में 20 किलो धूल सोखता है। 700 किलो ऑक्सीजन छोड़ता है तो 20 हजार किलो कार्बन डाइऑक्साइड सोखता है। गर्मियों में एक पेड़ के पास सामान्य से लगभग 4 डिग्री कम तापमान रहता है। इस तरह घर के पास 10 पेड़ लगे हों तो आदमी की उम्र 7 साल तक बढ़ जाएगी। इसलिए पर्यावरण संतुलन, पर्याप्त जल और हरित आवरण बढ़ाने के लिए बिहार राज्य में जल-जीवन-हरियाली अभियान शुरू किया गया। इस योजना के तहत बारिश के पानी को तालाब और मेड़ में संचित करना है, जिससे फसलों की सिंचाई हो सके। इस योजना की खास बात यह है कि तालाब की मेड़बंदी के ऊपर पेड़-पौधों की बुवाई होती है। इसके लिए भी सरकार किसानों को सब्सिडी भी देती है।

जल जीवन हरियाली योजना के लाभ

  • इस योजना का लाभ राज्य के किसानों को मिलेगा|
  • योजना के तहत किसान भाइयों को तलाब, पोखर, कुएं  बनाने और खेतों की सिंचाई के लिए 75500 रुपए की सब्सिडी का लाभ
  • इस योजना के अंतर्गत पुराने कुओं, तालाबों, एवं अन्य जल स्रोतों की मरम्मत करके उन्हें सुदृढ़ किया जाएगा|
  • योजना के तहत चापा कल, कुएं,एवं सरकारी भवनों में वर्षा के पानी को स्टोर करने के लिए वाटर हार्वेस्टिंग की जाएगी|
  • पानी के स्त्रोत्र जैसे नदियां, नाले और पहाड़ी क्षेत्रों में चेक डैम का निर्माण भी योजना के तहत किया जाएगा|
  • राज्यों में स्वच्छ वातावरण एवं हरियाली के लिए पेड़ लगाने की मुहिम पर काम किया जाएगा|
  • वर्ष 2022 तक इस योजना पर 24 हजार 524 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे|

जल जीवन हरियाली योजना की पात्रता

  • एक किसान को कम से कम एक एकड़ खेत में सिंचाई के लिए सब्सिडी मिलेगी।
  • किसान पात्रता को दो वर्गों में बांट गया है। 1. व्यक्तिगत श्रेणी 2. सामूहिक श्रेणी
  • व्यक्तिगत श्रेणी में वे किसान शामिल है जो न्यूनतम एक एकड़ भूमि में सिंचाई करना चाहते हैं।
  • सामूहिक श्रेणी में एक एकड़ से छोटी जोत वाले किसान शामिल है। इस योजना का लाभ एक से ज्यादा किसान समूह बनाकर एक एकड़ या एक इकाई में सिंचाई करने के लिए उठा सकते हैं।
  • इसके अलावा जो किसान इस योजना का लाभ 5 हेक्टेयर से अधिक रकबे में एक साथ लेना चाहते हैं, उन्हें शत-प्रतिशत वास्तविक लागत के अनुरूप सब्सिडी दी जाएग।
  • इसके साथ ही जीविका समूह औऱ एफ.पी.ओ. से भी आवेदन मांगे गए हैं।

Jal Jeevan Hariyali Yojana 2020 Eligibility (योजना की पात्रता)

  • योजना के पात्र केवल बिहार राज्य के स्थाई नागरिक होंगे|
  • किसानों को 1 एकड़ भूमि पर सिंचाई के लिए सब्सिडी मिलेगी|
  • इस योजना के तहत किसानों को दो श्रेणियों में बांटा गया है पहेली व्यक्तिगत और दूसरी सामूहिक|
  • व्यक्तिगत श्रेणी में वह लोग आते हैं जिनके पास 1 एकड़ भूमि है और वह उस एक एकड़ भूमि पर कृषि कर रहे हैं|
  • सामूहिक श्रेणी के तहत वह लोग आते हैं जिनके पास 5 हेक्टेयर से अधिक भूमि है इस पर लागत की पूरी सब्सिडी का लाभ है|

जल जीवन हरियाली योजना 2020 के दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • कोई भी पहचान पत्र
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • भूमि के कागजी रिकॉर्ड
  • बैंक अकाउंट डिटेल्स जैसे पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

जल जीवन हरियाली योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो आपको नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे।

  • सर्वप्रथम आवेदक को कृषि विभाग बिहार की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।  ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने सामने होम पेज खुल जायेगा।
जल जीवन हरियाली योजना
  • होम पेज खुलने के बाद जल जीवन हरियाली का ऑप्शन दिखाई देगा आपको इसके नीचे आवेदन करे के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।  ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने कंप्यूटर स्क्रीन पर अगला पेज खुल जायेगा।
जल जीवन हरियाली योजना
  • इस पेज पर आपको किसान का समूह या स्वयं किसान पर सही का निशान लगाए इसके बाद आपकी किसान पंजीकरण संख्या कर क्लिक करे इसके बाद आपके सामने जल जीवन हरियाली का आवेदन फॉर्म खुल जायेगा। इसके बाद आपको रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे किसान का नाम , पिता का नाम , पंचायत का नाम आदि भरनी होगी।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको गेट ओटीपी  पर क्लिक करना होगा। जिसके बाद आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर ओ टी पी आएगा जिसको आपको आवेदन फॉर्म में भरना होगा और फिर सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।इस तरह आपका आवेदन पूरा हो जायेगा।

जल जीवन हरियाली योजना आवेदक की स्थिति /प्रिंट कैसे करे ?

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी अपने आवेद की स्थिति देखना चाहते है और अपने आवेदन को प्रिंट करना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे।

  • सबसे पहले आपको कृषि विभाग, बिहार सरकार की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको आवेदन की स्थिति /प्रिंट के सेक्शन में से आपको जल जीवन हरियाली प्रिंट का ऑप्शन दिखाई देगा। आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
जल जीवन हरियाली योजना
  • विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको अपनी पंजीकरण संख्या भरनी होगी। किसान का समूह/स्वयं किसान आदि का चयन करना होगा और फिर search के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • बटन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने आवेदन की स्थिति खुल जाएगी। इसके बाद आप प्रिंट कर सकते है।

GALLERY

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *