Category Archives: आधुनिक भारत

अठारहवीं सदी में भारत में राज्य और समाज | State and Society in India in the Eighteenth Century

अठारहवीं सदी में भारत में राज्य और समाज | State and Society in India in the Eighteenth Century अठारहवीं सदी में भारत में राज्य और समाज मुगल साम्राज्य के कमजोर होने के साथ-साथ स्थानीय राजनीतिक और आर्थिक शक्तियाँ सिर उठाने लगीं और अपना दबाव बढ़ाने लगीं। 17वीं सदी के अंत और उसके बाद की राजनीति… Read More »

अंग्रेजों ने ईस्ट इंडिया कंपनी की स्थापना कब की

अंग्रेजों ने ईस्ट इंडिया कंपनी की स्थापना कब की ईस्ट इंडिया कंपनी सन 1600 में बनाई गई थी. उस वक़्त ब्रिटेन की महारानी थीं एलिज़ाबेथ प्रथम. जिन्होंने ईस्ट इंडिया कंपनी को एशिया में कारोबार करने की खुली छूट दी थी. आज आपको दुनिया की सबसे ताक़तवर कंपनी की कहानी सुनाते हैं. इस कंपनी का नाम… Read More »

फ्रांसीसी भारत कब आये | When did french come to india

फ्रांसीसी भारत कब आये | When did french come to india भारत आने वाले अंतिम यूरोपीय व्यापारी फ्रांसीसी थे। फ्रांसीसी ईस्ट इंडिया कंपनी की स्थापना 1664 ई में लुई सोलहवें के शासनकाल में भारत के साथ व्यापार करने के उद्देश्य से की गयी थी। फ्रांसीसियों ने 1668 ई में सूरत में पहली फैक्ट्री स्थापित की… Read More »

मुगल साम्राज्य का पतन के कारण क्या थे

मुगल साम्राज्य का पतन के कारण क्या थे मुगल साम्राज्य का पतन भारतीय इतिहास की एक अत्यंत महत्त्वपूर्ण घटना है। यह घटना मध्यकालीन भारत का अंत कर आधुनिक भारत की नींव डालती है। इतिहासकारों में मुगल साम्राज्य के पतन के कारणों को लेकर विवाद है। पतन के कारणों के बारे में इतिहासकार दो  गुटों में बंटे हैं जो निम्नलिखित… Read More »

धर्म तथा समाज सुधार आंदोलन | Religion and Social Reform Movement

धर्म तथा समाज सुधार आंदोलन | Religion and Social Reform Movement 19वी शताब्दी को विश्व के इतिहास में अत्यंत महत्वपूर्ण माना जाता है। यह शताब्दी बस भारत के लिए धार्मिक तथा सामाजिक पुनर्जागरण का संदेश लेकर आई थी। इस शताब्दी में भारत पराधीन था और उसका सामाजिक तथा धार्मिक जीवन तीव्र गति से नीचे गिरा रहा था।… Read More »

1857 का विद्रोह : प्रथम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम | Revolt of 1857

1857 का विद्रोह : प्रथम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम | Revolt of 1857 1857 का भारतीय विद्रोह, जिसे प्रथम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के नाम से भी जाना जाता है ब्रितानी शासन के विरुद्ध एक सशस्त्र विद्रोह था। यह विद्रोह दो वर्षों तक भारत के विभिन्न क्षेत्रों में चला। इस विद्रोह का आरंभ छावनी क्षेत्रों में छोटी… Read More »

भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन | Indian National Movement

भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन एलन ऑक्टोवियन ह्युम नामक एक अवकाश प्राप्त ब्रिटिश अधिकारी ने भारतीय नेताओं के सहयोग से 28 दिसंबर, 1885 को मुंबई मेँ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना की। मुंबई मेँ आयोजित कांग्रेस के प्रथम अधिवेशन की अध्यक्षता व्योमेश चंद्र बनर्जी ने की। इस अधिवेशन मेँ मात्र 72 प्रतिनिधियोँ ने भाग लिया। प्रारंभ में ब्रिटिश सरकार ने कांग्रेस… Read More »

द्वितीय विश्व युद्ध क्यों हुआ था, इसके कारण व परिणाम | World war 2

द्वितीय विश्व युद्ध क्यों हुआ था, इसके कारण व परिणाम | World war 2 दूसरे विश्व युद्ध की भूमिका पहले विश्व युद्ध के समापन के साथ ही बन गयी थी,इसकी वास्तविक शुरुआत 1931 में हुई थी, जब जापान ने मंचुरिया छीन लिया था। उधर इटली ने 1935 में एबीसनिया में घुसकर उसे हरा दिया। लेकिन… Read More »

प्रथम विश्व युद्ध : कारण एवं परिणाम | First World War- 1914-18

प्रथम विश्व युद्ध : कारण एवं परिणाम | First World War- 1914-18 प्रथम विश्व युद्ध से संबंधित महत्त्वपूर्ण तथ्य  प्रथम विश्वयुद्ध 4 वर्ष तक चला।  37 देशों ने प्रथम विश्‍वयुद्ध में भाग लिया।  प्रथम विश्वयुद्ध का तात्का‍लिक कारण ऑस्ट्रिया के राजकुमार फर्डिंनेंड की हत्या था। ऑस्ट्रिया के राजकुमार की हत्या बोस्निया की राजधानी सेराजेवो में… Read More »